May 29, 2024

Ajayshri Times

सामाजिक सरोकारों की एक पहल

World Water Day 2022: जानिए ‘विश्व जल दिवस’ का महत्व और पानी बचाने के उपाय
प्रत्येक वर्ष 22 मार्च को ‘विश्व जल दिवस (World Water Day)’ के रूप में मनाया जाता है ताकि पानी का महत्व और पानी बचाने के लिए लोगों में जागरूकता बढ़ाई जा सके.

 

World Water Day 2022ko: प्राणी और पौधों के आवश्यक तत्वों में ‘पानी’ जीवन की प्रमुख आवश्यकता होती है. इसके बिना सभी जीवित प्राणी और पौधों का अस्तित्व समाप्त होने में ज़्यादा समय नहीं लगेगा. एक कहावत कहती है कि, “जल ही जीवन है ” . हालांकि, बढ़ते औद्योगीकरण, पानी का आवश्यकता से अधिक इस्तेमाल से वर्तमान में हम जीवन जीने के लिए पानी की किल्लत जैसे गंभीर परिस्थितियों का सामना कर रहे हैं.

इसलिए हर साल 22 मार्च को विश्व जल दिवस (World Water Day) ‘ के रूप में मनाया जाता है ताकि, पानी का महत्व और पानी बचाने के लिए लोगों में जागरूकता बढ़ाई जा सके. इस अवसर पर आइए एक नज़र डालते हैं इस साल की World Water Day की थीम पर. साथ ही जानिये विश्व जल दिवस का महत्व और पानी बचाने के आसान उपाय क्या-क्या हैं?

World Water Day मनाने का इतिहास और उद्देश्य
पानी की बढ़ती जरूरते, पानी की बढ़ते अभाव और जमीन में निचे फिसलती पानी (भू-जल) की लेवल आदि से लोगों को अवगत कराने के उद्देश्य से संयुक्त राष्ट्र संघ (United Nations Organization) ने विश्व जल दिवस (World Water Day) सेलिब्रेट करने की शुरुआत की थी.

साल 1992 में रियो डि जेनेरियो (ब्राज़ील) में आयोजित ‘ पर्यावरण एवं विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन ‘ ( UNCED ) में विश्व जल दिवस को मनाने के प्रस्ताव को बहुमत से पारित किया गया. इसके बाद 1993 से, जल संरक्षण के जरूरतों को समझने और सामुदायिक जागरूकता बढ़ाने के लिए हर साल 22 मार्च को विश्व जल दिवस का आयोजन किया जाता है. आपको बता दू, सबसे पहले विश्व जल दिवस का आयोजन 22 मार्च 1993 को किया गया था.

विश्व जल दिवस 2022 की थीम
drinks water at the edge of a check dam in village

जल दिवस का महत्व
दुनियाभर बहुत से लोग किस्मत वाले की उन्हें 24 घंटे पानी मिल रहा है. जबकि दुनिया का एक बड़ा हिस्सा ऐसा है जिसे साफ पानी तो क्या पानी ही नहीं मिल रहा है और इस दिन को मनाने का महत्व सिर्फ इतना सा है कि हम सब उस संसाधन को बचाने में साथ हो जो हमारी जिंदगी में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, और आज जिस तरह के वातावरण में रहते हैं उसके लिए हम ही जिम्मेदार हैं. ऐसे दिन हमें याद दिलाते हैं कि हमें किन चीज़ों को बचाने की जरूरत है. अभी देर नहीं हुई है अगर हम आज से ही हमारी जिंदगी से जुड़े इतने महत्वपूर्व रिसोर्स को बचाने में योगदान दें.

Please follow and like us:
Pin Share

About The Author

You may have missed

Enjoy this blog? Please spread the word :)

YOUTUBE
INSTAGRAM