May 25, 2024

Ajayshri Times

सामाजिक सरोकारों की एक पहल

संसद में जनरल बिपिन रावत समेत अन्य शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि!

संसद में जनरल बिपिन रावत समेत अन्य शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि! राजनाथ सिंह ने बताया घायल जवान का हाल

संसद में जनरल बिपिन रावत समेत अन्य शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि!

लोकसभा में जनरल बिपिन रावत के निधन पर बयान देते रक्षामंत्री राजनाथ सिंह।
देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ जनरल बिपिन रावत के निधन पर गुरुवार को लोकसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बयान दिया। उन्होंने कहा कि सीडीएस जनरल बिपिन रावत का अंतिम संस्कार पूरे सैन्य सम्मान के साथ किया जाएगा। साथ ही अन्य सैन्य कर्मियों का अंतिम संस्कार उचित सैन्य सम्मान के साथ किया जाएगा। अपने बयान में उन्होंने कहा कि भारतीय वायु सेना (IAF) ने सैन्य हेलिकॉप्टर दुर्घटना की त्रि-सेवा जांच के आदेश दिए हैं। जांच का नेतृत्व एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह करेंगे। कल ही जांच टीम वेलिंगटन पहुंची और जांच शुरू कर दी है।

संसद में जनरल बिपिन रावत समेत अन्य शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि!
लोकसभा में जनरल बिपिन रावत के निधन पर बयान देते रक्षामंत्री राजनाथ सिंह।

इससे पहले लोकसभा ने तमिलनाडु के कुन्नूर के पास एक सैन्य हेलीकॉप्टर दुर्घटना में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और अन्य कर्मियों के निधन पर दो मिनट का मौन रखा। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह वेलिंगटन के मिलिट्री हॉस्पिटल में लाइफ सपोर्ट पर हैं। उनकी जान बचाने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं।

तमिलनाडु के कुन्नूर के पास एक सैन्य हेलीकॉप्टर दुर्घटना में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और अन्य कर्मियों के निधन पर राज्यसभा में भी दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी गई।

सीडीएस जनरल बिपिन रावत बुधवार सुबह दिल्ली से उड़ान भरते हैं लेकिन किसे यह पता था कि अब वह लौट कर नहीं आएंगे। बिपिन रावत को स्टाफ कॉलेज में लेक्चर देना था लेकिन वह पहुंच नहीं पाते हैं। तमिलनाडु के कोयंबटूर और सुलूर के बीच कुन्नूर में हेलिकॉप्टर क्रैश हो जाता है और शाम होते यह खबर आती है कि बिपिन रावत नहीं रहे। बिपिन रावत के साथ इस हेलिकॉप्टर 13 लोग मारे जाते हैं। हादसे में सिर्फ देवरिया के रहने वाले ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह जिंदा हैं जिन्हें काफी चोट लगी है और वह भर्ती हैं।

जनरल रावत उनकी पत्नी और इन जवानों की गई जान

हेलिकॉप्टर क्रैश में जनरल रावत के साथ उनकी पत्नी मधुलिका रावत, ब्रिगेडियर एल.एस. लिद्दर, लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह, नायक गुरसेवक सिंह, नायक जितेंद्र कुमार, नायक विवेक कुमार, नायक बी. साई तेजा, हवलदार सतपाल और पायलट सवार थे। इन सभी की जान चली जाती है।

आगरा के पृथ्वी सिंह चौहान की गई जान, परिवार ने इकलौता बेटा खोया

हेलिकॉप्टर क्रैश हादसे में आगरा के विंग कमांडर पृथ्वी सिंह चौहान की भी जान चली जाती है। पृथ्वी सिंह दयालबाग के सरन नगर के रहने वाले हैं। विंग कमांडर के न बच पाने की खबर जैसे ही लोगों को मिली उनके घर पर लोगों की भीड़ लग गई। सरन नगर निवासी सुरेंद्र सिंह के इकलौते बेटे थे पृथ्वी सिंह चौहान।

हिमाचल के विवेक कुमार ने भरी आखिरी उड़ान

हिमाचल के जयसिंहपुर से संबंध रखने वाले लांस नायक विवेक कुमार भी हेलिकॉप्टर क्रैश में नहीं बच पाते हैं। विवेक कुमार सीडीएस बिपिन रावत के PSO थे। सीडीएस जनरल बिपिन रावत आज यानी बुधवार सुबह दिल्ली से एयरफोर्स के स्पेशल एयरक्राफ्ट से 8 बजकर 47 मिनट पर निकले और सुलूर 11 बजकर 34 बजे पहुंचे। सुलूर से वह 11 बजकर 48 मिनट पर Mi-17 में वेलिंगटन के लिए रवाना हुए। वहां उन्हें स्टाफ कॉलेज में लेक्चर देना था।

पंजाब के तरन तारन का लाल गुरुसेवक हादसे का शिकार

पंजाब के तरन तारन जिले के रहने वाले भारत के वीर गुरुसेवक सिंह उन 13 लोगों में शामिल थे, जिन्होंने सीडीएस के साथ हेलिकॉप्टर दुर्घटना में अपनी जान गंवाई। इस हेलिकॉप्टर में सीडीएस जनरल बिपिन रावत समेत 14 लोग सवार थे। दोपहर 12 बजे के बाद इस हेलिकॉप्टर के क्रैश होने की खबर आती है और शाम तकरीबन 6 बजे यह दुखद खबर आती है कि बिपिन रावत समेत हेलिकॉप्टर में सवार 13 लोगों की मौत हो चुकी है।

साईं तेजा ने सुबह ही किया था बच्चों को वीडियो कॉल

हेलिकॉप्टर दुर्घटना में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत के साथ मारे गए लोगों में आंध्र प्रदेश का एक जवान भी शामिल है। सीडीएस के व्यक्तिगत सुरक्षा अधिकारी के रूप में सेवारत लांस नायक बी.साईं तेजा, जनरल रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत के साथ मारे गए 11 लोगों में शामिल थे।आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले के रहने वाले साईं तेजा (27) के परिवार में पत्नी श्यामला, 4 साल का बेटा मोक्षगना और 2 साल की एक बेटी दर्शिनी है। एक किसान का बेटा साईं तेजा कुराबाला कोटा मंडल के एगुवा रेगाडा गांव का रहने वाला था।

बिपिन रावत के निजी सुरक्षा अधिकारी थे जितेंद्र

मध्यप्रदेश की माटी के सपूत नायक जितेंद्र कुमार हेलिकॉप्टर क्रैश में जान गंवा देते हैं। नायक जितेंद्र कुमार मध्यप्रदेश के सीहोर जिले के धामंदा गांव के रहने वाले थे और रावत के निजी सुरक्षा अधिकारियों में से एक थे।

Please follow and like us:
Pin Share

About The Author

You may have missed

Enjoy this blog? Please spread the word :)

YOUTUBE
INSTAGRAM