June 15, 2024

Ajayshri Times

सामाजिक सरोकारों की एक पहल

देहरादून में आज रहेगा रूट डायवर्टयातायात प्लान देखकर ही सड़क पर उतरे

 

देहरादून में आज रहेगा रूट डायवर्टयातायात प्लान देखकर ही सड़क पर उतरे

शोभायात्रा के दौरान आम लोगों को परेशानी न हो इसके लिए पुलिस ने शहर में यातायात को डायवर्ट किया है। आम लोगों से अपील की है कि वह यातायात प्लान देखकर ही सड़क पर उतरे।

रूट डायवर्ट

आज मंगलवार को शहर में टपकेशवर महाराज की शोभायात्रा निकाली जाएगी। शोभायात्रा शिवाजी धर्मशाला से शुरू होकर सहारपुर चौक, झंडा बाजार, पलटन बाजार, चकराता रोड, कैंट रोड होते हुए टपकेश्वर महादेव में समाप्त होगी। शोभायात्रा के दौरान आम लोगों को परेशानी न हो इसके लिए पुलिस ने शहर में यातायात को डायवर्ट किया है। आम लोगों से अपील की है कि वह यातायात प्लान देखकर ही सड़क पर उतरे।
ये रहेगा प्लान
शोभायात्रा के शिवाजी धर्मशाला से निकलने पर आईएसबीटी की ओर से आने वाले यातायात को निरंजनपुर मंडी से जीएमएस रोड की ओर डायवर्ट किया जाएगा। इस दौरान लाल पुल, भंडारी भाग से भी यातायात डायवर्ट रहेगा, सहारनपुर चौक पहुंचने पर बल्लीवाला चौक से सहारनपुर चौक पर यातायात नहीं आएगा। बल्लीवाला, लक्ष्मण चौक से यातायात डायवर्ट किया जाएगा, झंडा बाजार और पलटन बाजार पहुंचने पर यातायात सामान्य कर दिया जाएगा, चकराता रोड पहुंचने पर सड़क मार्ग के एक ओर शोभायात्रा को चलाया जाएगा, दूसरे मार्ग पर दोनों ओर के यातायात को चलाया जाएगा। भारी वाहनों (बस) को घंटाघर से दिलाराम की ओर डायवर्ट किया जाएगा, यातायात के दबाव की स्थिति में समस्त वाहनों को घंटाघर से दिलाराम की ओर डायवर्ट किया जाएगा, शोभायात्रा के बिंदाल चौक से कैंट क्षेत्र में प्रवेश करने पर यातायात सामान्य कर दिया जाएगा, शोभायात्रा के कैंट मार्ग पर चलने के दौरान मार्ग में कोई भी वाहन आने नहीं दिया जाएगा, शोभायात्रा के पोस्ट ऑफिस तिराहा पहुंचने पर वाटिका तिराहा से यातायात डायवर्ट किया जाएगा, शोभायात्रा का पिछला हिस्सा गढ़ी कैंट बाजार पार करने पर समस्त यातायात सामान्य कर दिया जाएगा।

टपकेश्वर महादेव मंदिर के मुख्य पुजारी भरत गिरी महाराज ने बताया कि शोभा यात्रा सहारनपुर चौक से शुरू होकर शाम 5 बजे टपकेश्वर महादेव मंदिर पर जाकर समाप्त होगी. उन्होंने बताया कि इस पूरे रूट पर पुष्प वर्षा का निर्णय लिया गया है. साथ ही कहा कि यह 21वां साल है. साल 2011 के बाद 11 साल बाद हेलीकॉप्टर के माध्यम से फूलों की बारिश करवाई जाएगी. उन्होंने कहा कि यह हिंदू धर्म विशेषकर शिव भक्तों के लिए गौरव की बात है कि आसमान से शोभायात्रा और टपकेश्वर महाराज पर सावन मास के समापन के उपलक्ष्य में फूलों की वर्षा होगी.

Please follow and like us:
Pin Share

About The Author

You may have missed

Enjoy this blog? Please spread the word :)

YOUTUBE
INSTAGRAM