April 24, 2024

Ajayshri Times

सामाजिक सरोकारों की एक पहल

इस बार कुल 106 लोगों को पद्म पुरस्कारों से सम्मानित किया जाएगा उत्तराखंड से नही कोई नाम

इस बार कुल 106 लोगों को पद्म पुरस्कारों से सम्मानित किया जाएगा उत्तराखंड से नही कोई नाम

सरकार ने बुधवार को पद्म पुरस्कारों की घोषणा कर दी है. इस बार कुल 106 लोगों को पद्म पुरस्कारों से सम्मानित किया जाएगा. इस लिस्ट में 6 पद्म विभूषण, 9 पद्म भूषण और 91 पद्म श्री शामिल हैं. उत्तराखंड से नही कोई नाम नही है। 19 पुरस्कार विजेता महिलाएं हैं. विदेशी/NRI/PIO/OCI की श्रेणी के 2 और 7 लोगों को मरणोपरांत पुरस्कार दिया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पद्म पुरस्कार पाने वालों को बधाई दी. गौरतलब है कि पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से हैं. साल 1954 से ये पुरस्कार हर साल गणतंत्र दिवस पर दिए जाते हैं.
गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर हर साल की तरह इस साल भी पद्म पुरस्कारों का ऐलान किया गया. इस बार सरकार ने सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav), ORS के जनक डॉ. दिलीप महालनाबीस (Dilip mahalanabis), कुमार मंगलम बिड़ला (KM Birla) समेत 106 शख्सियतों को पद्म पुरस्कार देने की घोषणा की है. मुलामय सिंह यादव, डॉ. दिलीप महालनाबीस समेत 6 को पद्म विभूषण पुरस्कार दिया जाएगा वहीं, कुमार मंगलम बिड़ला, सुधा मूर्ति समेत 9 हस्तियों को पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा. इसके अलावा राकेश झुनझुनवाला, रवीना टंडन समेत 91 अन्य को पद्मश्री पुरस्कार देने की घोषणा की गई है.

मुलायम सिंह यादव, ORS के जनक दिलीप महालनोबिस समेत 106 हस्तियों को पद्म पुरस्कार | : अभिनेत्री रवीना टंडन समेत 91 हस्तियों को पद्म श्री सम्मान, यहां देखें पूरी लिस्ट
Padma Bhushan Awards 2023 Full List: सुधा मूर्ति, कुमार मंगलम बिड़ला समेत इन 9 हस्तियों को पद्म भूषण सम्मान,

कौन हैं दिलीप महालनाबिस
डॉक्टर दिलीप महालनाबिस 1971 के बांग्लादेश युद्ध के शरणार्थियों के शिविरों में सेवा करने के लिए अमेरिका से लौटे और दुनिया भर में ‘ओआरएस’ घोल के उपयोग को बढ़ावा दिया, जिससे पांच करोड़ से अधिक लोगों की जान बच सकी.

पद्म पुरस्कारों के लिए घोषित नामों में महाराष्ट्र से 12, कर्नाटक और गुजरात से आठ-आठ व्यक्ति शामिल हैं. अंडमान निकोबार के सेवानिवृत्त सरकारी डॉक्टर रतन चंद्र कार, सामाजिक कार्यकर्ता हीराबाई लोबी, पूर्व सैनिक मुनीश्वर चंदर डावर को पद्मश्री के लिए चुना गया है. रतन चंद्र कार निकोबार द्वीप समूह में जारवा जनजाति के साथ काम कर रहे हैं, वहीं डावर मध्य प्रदेश में हाशिए पर के लोगों की सेवा में जुटे हैं. नगा सामाजिक कार्यकर्ता रामकुइवांगबे न्यूमे को पद्म श्री के लिए चुना गया है. उन्होने जागरूकता शिविरों और कार्यक्रमों के जरिए स्वदेशी हेराका संस्कृति का संरक्षण और प्रचार किया एवं 10 प्राथमिक विद्यालयों की स्थापना की और महिलाओं की शिक्षा को प्रोत्साहित किया.

पद्म श्री के लिए चुने गए लोगों में ‘कन्नूर के गांधी’ वीपी अप्पुकुट्टन पोडुवल के साथ ही सांप पकड़ने वाले मासी सदाइयां और गोपाल और सिक्किम के जैविक किसान तुला राम उप्रेती भी शामिल हैं. अधिकारियों के अनुसार मुलायम सिंह यादव, एस एम कृष्णा, उस्ताद जाकिर हुसैन सहित पांच लोगों को पद्म विभूषण मिलेगा. बता दें कि पद्म पुरस्कार देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक है तीन श्रेणियों पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री के रूप में दिया जाता है. पद्म विभूषण ‘भारत रत्न’ के बाद देश का दूसरा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार है.

 

Please follow and like us:
Pin Share

About The Author

You may have missed

Enjoy this blog? Please spread the word :)

YOUTUBE
INSTAGRAM