February 27, 2024

Ajayshri Times

सामाजिक सरोकारों की एक पहल

लेबल कृति कुमार के सुनहरे पच्चीस वर्ष पूर्ण होने पर सिल्वर जुबली बुटिक शोरूम का शुभारम्भ

लेबल कृति   कुमार  के   सुनहरे पच्चीस वर्ष पूर्ण होने पर सिल्वर जुबली बुटिक शोरूम का शुभारम्भ

देहरादून।लेबलकृति   कुमार  के सुनहरे पच्चीस वर्ष पूर्ण होने पर सिल्वर जुबली बुटिक शोरूम का शुभारम्भ किया गया। भव्य शोरूम में विभिन्न प्रकार के विशिष्ट वस्त्रो को प्रदर्शित किया गया। सिल्वर जुबली बुटिक के मुख्य द्वार पर विभिन्न प्रकार की विशिष्ट परिधानों में सुसज्जित मॉडल द्वारा
आगन्तुको का स्वागत किया जा रहा था। जिसके उपरान्त पूर्व के शोरूम में भी कुछ विशिष्ट प्रकार के परिधान सजाऐ गये थे जो आगन्तुको के आकर्षण का केन्द्र रहे जिसके उपरान्त एक सुसज्जित मार्ग जिसके दोनो ओर को फूलो एवं पौधो से सजाया गया था उपरान्त एक 13-14 सीढ़ियो के बाद भव्य सिल्वर जुबली शोरूम अपने आप में अपनी भव्यता से आगन्तुको को लुभा रहा था। जहाँ पर लहंगा चोली इन्डो वेस्टर्न परिधान, साड़िया, सूट, अचकन,वर वधु परिधान एवं पति पत्नी के लिये ट्यूनिंग परिधान बनाये गये थे। जो आगन्तुको द्वारा काफी सराहे जा रहे थे।
इस अवसर पर आगन्तुको को लुभावने गिफ्ट देकर इस अवसर को एक बेहतर रूप देने का प्रयास किया गया | इस भव्य आकर्षक कार्यक्रम में उपस्थित देहरा दून के जाने माने प्रतिष्ठित परिवार सम्मिलत जिनके द्वारा परिधानों को क्रय करने के साथ साथ परिधानों की बहुत प्रशंसा की जा रही थी | इस ख़ास अवसर पर उपस्थित अतिथि रहे पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर दक्ष उनकी माताजी छवि जैन ख्याति प्राप्त चित्रकार ज्ञानेंद्र कुमार जी, वरिष्ठ संगीतज्ञ उत्पल सामन्त जी, पुनिता नागलिया जी,
मोहित गोयल मिसेज गोयल डॉक्टर अश्विन गर्ग, मॉडल मानविका भूमि,आयशा उपस्थित थी ।कैमरामैन एलपी थापा जी ने इस अवसर को अपने कैमरे मे कैद किया बिट्टू चतुर्वेदी अर्चना बिष्ट खेलगुरू मिस्टर सुधांशु एरन एंड मिसेस पूनम एरन इस अवसर पर पर्यावरणविद समाजसेवी श्री जगदीश बावला जी ने भी शोरूम के ओनर को अपना आशीर्वाद प्रदान किया | कार्यक्रम के अंत मे दोनों लेबल कृति कुमार   ने  बातचीत के दौरान बताया  की  किस प्रकार एक म्यूजिक डायरेक्टर बनने के ख्वाब ने अचानक टर्निंग पॉइंट लेकर फैशन डिज़ाइनर कि तरफ उनका रुझान कर दिया एक बेहतरीन जोड़ी कि तरह  कृति   कुमार और उनके पति इकरान्त इस बूटीक को चलते है कृति ख्वाब बुनती है तो इकरान्त उसे हकीकत बनाते है   कृति जी ने बताया कि वो इसे फैशन हब कहते है यहाँ वो कस्टमर के व्यक्तित्व के अनुसार परिधान बनवाते है।

Please follow and like us:
Pin Share

About The Author

You may have missed

Enjoy this blog? Please spread the word :)

YOUTUBE
INSTAGRAM