May 29, 2024

Ajayshri Times

सामाजिक सरोकारों की एक पहल

नो स्मोकिंग डे: जिंदगी से है प्यार तो न करें धूम्रपान

 

नो स्मोकिंग डे: एक सिगरेट जीवन के 11 मिनट कम करती है, यदि आप भी छोड़ना चाहते हैं स्मोकिंग तो रखें इन बातों का ध्यान

नो स्मोकिंग डे: एक सिगरेट जीवन के 11 मिनट कम करती है, यदि आप भी छोड़ना चाहते हैं स्मोकिंग तो रखें इन बातों का ध्यान
No Smoking Day 2022: धूम्रपान करना स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाने वाली सबसे बुरी आदतों में से एक है, जिस कारण से कई प्रकार के कैंसर व अन्य रोगों के होने का खतरा बढ़ जाता है।

हर साल 9 मार्च को नो स्मोकिंग डे (No Smoking Day) के रूप में मनाया जाता है, जिसका मुख्य उद्देश्य सिगरेट पीने वालों को इसे छोड़ने और जिन्होनें अभी शुरू नहीं किया है उन्हें कभी न पीने की सलाह देना है। हर कोई यह जानता है कि धूम्रपान सेहत के लिए बेहद खतरनाक है। एनसीबीआई की रिपोर्ट के अनुसार 1 सिगरेट पीना आपके जीवन से 11 मिनट कम कर देता है। इसके जोखिम को आप यहां से भी समझ सकते हैं कि यह सिर्फ सिगरेट पीने वाले व्यक्ति के स्वास्थ्य को ही नहीं बल्कि उसके आसपास खड़े लोगों के स्वास्थ्य को भी नुकसान पहुंचाता है। सीडीसी की वेबसाइट पर छपी एक रिपोर्ट के अनुसार धूम्रपान करने वाले लोगों को कैंसर, हृदय रोग, फेफड़ों के रोग और स्ट्रोक जैसे गंभीर रोग होने का खतरा बढ़ जाता है। आज हम आपको स्मोकिंग से जुड़ी कुछ ऐसी खास बातें बताने वाले हैं, जो न सिर्फ आपको सिगरेट छोड़ने के लिए जागरूक करेंगी बल्कि आप दूसरों को भी धूम्रपान न करने के लिए प्रेरित करेंगे।

सिगरेट पीने के होते हैं अलग-अलग बहाने
आजकल की जनरेशन में धूम्रपान करने का एक ट्रेंड सा बन गया है, कुछ लोग सिगरेट पीते हैं तो वहीं कुछ लोग मंडली बनाकर हुक्का पीते हैं। हर किसी के पास धूम्रपान करने का अलग बहाना होता है, कुछ लोग इसे “स्ट्रेस बस्टर” नाम देते हैं और कहते है कि सिगरेट पीने से उनका तनाव कम हो जाता है और उन्हें अच्छा महसूस होता है। वहीं कुछ लोग कहते हैं कि सुबह-सुबह सिगरेट पिए बिना उनका पेट साफ ही नहीं होता है। हालांकि, इन सभी बातों की कोई पुष्टि नहीं की जा सकती है। वहीं कुछ रिसर्च रिपोर्ट्स बताती हैं कि धूम्रपान करने से वास्तव में चिंता, तनाव व अन्य मानसिक समस्याएं होने का खतरा बढ़ जाता है।

बहुत जल्दी पड़ती है सिगरेट की आदत
विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार सिर्फ 4 से 5 सिगरेट पीने से ही सिगरेट की आदत पड़ने का खतरा बढ़ जाता है। सिगरेट पीने वाले काफी लोग यह मानते हैं कि उन्होनें सिर्फ एक-दो दिन ही धूम्रपान किया था और उसके बाद उन्हें सिगरेट पीने की आदत पड़ गई।

स्टडी का दावा, ई-सिगरेट नहीं है सुरक्षित, इसमें छुपे हो सकते हैं कीटनाशक और खतरनाक केमिकल्स
Blood Clotting and E-Cigarettes : निकोटिन वाली सिगरेट पीने से होते हैं साधारण सिगरेट जैसे ही नुकसान, 23 फीसदी अधिक ब्लड क्लॉटिंग के मिले प्रमाण
मिलिंद सोमन कभी 1 दिन में पीते थे 20 से 30 सिगरेट्स, बताया कैसे पायी इस लत से आज़ादी
More Ne
सिगरेट छोड़ने की अधिकतम कोशिशें नाकाम
एनसीबीआई के वेबसाइट पर छपी एक अन्य रिपोर्ट के अनुसार सिगरेट पीने वाले लगभग 40 प्रतिशत लोग इसे छोड़ने के प्रयास करते हैं। इनमें से कुछ लोग धूम्रपान छोड़ने में पूरी तरह से असफल रहते हैं और कुछ लोग एक निश्चित समय तक सिगरेट पीना बंद करके फिर से शुरू कर देते हैं। हालांकि, कुछ लोग सिगरेट छोड़ने में सफल हो जाते हैं।

 

कैसे छोड़ें धूम्रपान
धूम्रपान छोड़ने के लिए एक मजबूत इच्छाशक्ति होना जरूरी है, जिसकी मदद से आप सिगरेट पीना छोड़ने में मदद मिल सकती है। निम्न टिप्स की मदद से आप धूम्रपान छोड़ सकते हैं –

धूम्रपान करने वाले लोगों से दूरी बना लें
निकोटीन रिप्लेसमेंट थेरेपी की मदद लें
रोजाना एक्सरसाइज करें और अच्छी डाइट लें
रोजाना पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं
यदि आपको बेचैनी होती है, तो डॉक्टर से संपर्क करें

Please follow and like us:
Pin Share

About The Author

You may have missed

Enjoy this blog? Please spread the word :)

YOUTUBE
INSTAGRAM